अपनी वेबसाइट कैसे बनाये | How to Start Your Own Website in Hindi

How To Start Your Own Website In Hindi: आजकल हर एक बिजनेस या ब्लॉग ( Business or Blog ) लिखने के लिए वेबसाइट ( Website ) की जरुरत होती है. ब्लॉग लिखना आजकल के समय में बहुत फेमस है. कई लोग इसे शौक के तौर पर तो कई इसे एक बिजनेस के रूप में शुरू करते है. ब्लॉग राइटिंग कई लोगों का सपना होता है, लेकिन सही जानकारी न मिलने की वजह से वे इसकी शुरुवात नहीं कर पाते है. बिजनेस के लिए भी वेबसाइट का होना बहुत जरूरी होता है. आज के मेरे इस आर्टिकल में आपको वेबसाइट बनाने की शुरुवात से अंत तक की जानकारी मिलेगी. अब वेबसाइट बनाने के लिए बहुत अधिक टेक्निकल ज्ञान ( Technical Knowledge ) की जरूरत नहीं है, आप अगर कंप्यूटर चलाना जानते है, इन्टरनेट आता है तो आप बहुत अच्छी वेबसाइट ( Website ) बना सकते है. हम आपको सभी जानकारी देने की कोशिश करेंगे

How to Create a Website | वेबसाइट बनाने की शुरुआत कैसे करे ?

एक वेबसाइट अच्छे से कार्य करे उसके लिए 3 चीजों की आवश्कता होती है –

  • डोमेन का चुनाव, और अपने वेबसाइट के लिए उसे रजिस्टर करें
  • वेब होस्ट बनायें, जिससे इन्टरनेट पर वेबसाइट काम कर सके
  • वेबसाइट की थीम को इनस्टॉल करें

ये अभी आपको नहीं समझ आ रहा होगा, मैं आपको ये स्टेप विस्तार से आगे समझाती हूँ.

1. डोमेन को चुने | Select a Domain

इन्टरनेट पर हर वेबसाइट को एक डोमेन नाम की जरूरत होती है. यह एक एड्रेस की तरह होता है, जिससे लोग आपके डोमेन नाम को टाइप कर आपके ब्लॉग तक पहुँच सकते है. किस तरह का ब्लॉग आप लिखना चाहते है, उसी तरह का नाम चुने. आप चाहें तो अपने नाम का भी डोमेन नाम चुन सकते है. आप .com या .in या .net का भी चुनाव कर सकते है. डोमेन नाम मौजूद है कि नहीं ये भी देखना जरुरी होता है. आजकल फ्री डोमेन उपलब्ध रहते है.

  • ऐसा डोमेन नाम चुने जो याद रखने में आसान हो, और बहुत आकर्षित हों.
  • ऐसा नाम चुने जो आपके वेबसाइट को अच्छे से दर्शाए औरआकर्षित, विस्तृत और रचनात्मक होना चाहिए.

अगर आपने डोमेन नाम का चुनाव कर लिया हो तो उसको आप स्टेप 2 जहाँ हमने वेब होस्टिंग के बारे मैं लिखा है वही से खरीब सकते हैं. इससे फायदा ये होगा की आपको डोमेन नाम free मैं मिल जायेगा और साथ ही होस्टिंग. इसके लिए आप स्टेप 2 पड़े.

2. Web Hosting Setup

डोमेन नाम का चुनाव के बाद आपको एक अकाउंट सेट करना होगा, जो वेब होस्ट कंपनी के द्वारा सेट होता है, ये आपके ब्लॉग को इन्टरनेट पर 24/7 लोगों के सामने प्रस्तुत करेगा. बहुत सारी वेब होस्टिंग कंपनी आज मौजूद है, जो न्यू ब्लॉगर को छोटा अकाउंट बनाकर देती है, जिनका महीने का चार्ज भी कम होता है. वेब होस्ट कंपनी का चुनाव करने से पहले ये देख लें कि उस कम्पनी की रिपोर्ट कैसी है, सर्वर स्पीड कैसी रहती है. ये सब बहुत जरुरी बातें है.यदि आप Beginner Blogger हो तो आपके लिए Hostinger से Web Hosting लेना ज्यादा अच्छा है क्योंकि Hostinger एक सस्ती और अच्छी Web Hosting है। चलिए मैं आपको इसकी Process बताता हूँ। जो इस प्रकार है ;

  • सबसे पहले आप हमारे इस स्पेशल लिंक के through hostinger पर जाये। अगर आप इस लिंक से जायेंगे तो आप 7 % का extra discuount भी मिलेगा.
  • जब आप Hostinger Website में आ जाते हो तो वहां आपको 3 Lines type में Menu का Option मिल जायेगा अगर आप Beginner Blogger हो तो आपके लिए Shared Web Hosting लेना ही ज्यादा अच्छा रहता है।
See also  ब्लॉग कैसे बनाये | How to create a Blog in Hindi | Free Blog Kaise Banaye 2021
hos
अपनी वेबसाइट कैसे बनाये | How to Start Your Own Website in Hindi 4
  • इसके लिए आप पहले Menu पर Click कीजिये।
  • फिर आपके सामने कुछ Option आएंगे जिसमें से आप Hosting पर Click कीजिये।
hoting
अपनी वेबसाइट कैसे बनाये | How to Start Your Own Website in Hindi 5
  • Hosting पर Click करते ही आपको Hosting के कुछ प्रकार देखने को मिलेंगे जिसमें से आपको Shared Web Hosting को Select करना है।
  • Shared Web Hosting Select करने के बाद आपको उस Page को Scroll करके नीचे आना है जहाँ आपको 3 Web Hosting Plan दिखेंगे। जिसमें पहला Single Web Hosting, दूसरा Premium Web Hosting तथा तीसरा Business Web Hosting है।
  • अगर आप Beginner Blogger हो तो आपके लिए Single Web Hosting या Premium Web Hosting Plan ही ज्यादा अच्छा रहेगा। आप दोनों में से किसी को Select कर सकते हो।
hosting
अपनी वेबसाइट कैसे बनाये | How to Start Your Own Website in Hindi 6

चलिए मैं आपको Premium Web Hosting को Select करके दिखाता हूँ। Select करने के लिए Add To Cart पाए Click करें।

Add To Cart करते ही आपके सामने एक New Page Open होगा जहाँ आपको कुछ Months के Plan के हिसाब से Offers देखने को मिल जायेंगे जिन पर Discount भी होगा। आप अपने According कोई भी Offer Select कर सकते हो। इसके बाद आपको यहाँ नीचे Daily Backup का Option मिल जायेगा अगर आप अपनी Website की सुरक्षा के लिए Daily Backup लेना चाहते हो तो इस Option को Select कर सकते हो इसके लिए भी Charge Pay करना पड़ता है। मेरा suggestion है की आप 1 साल का ले , वो आपको सस्ता पड़ेगा .

  • यहाँ आपको Cloudflare Protection का भी एक Option मिल जाता है इसे आप अपनी Website की सुरक्षा के लिए Enable कर सके हो। इसके लिए भी आपको Charge Pay करना पड़ता है यह सुविधा Lifetime के लिए मिलती है।
  • इसके बाद आपको Domain का Option मिल जायेगा। इस Search Bar में आपको अपनी Website के लिए एक Domain Search करना पड़ता है। आपने अपनी Website के लिए जो Domain निश्चित किया है वो आप यहाँ Search करके देख सकते हो कि वह Available है या नहीं।
  • अगर आपके द्वारा Search किया गया Domain Available होगा तो वह आपकी Order Summary में add हो जाता है।
  • इसके बाद Order Summary में आप देख सकते हो कि सभी Features का Amount और Taxes को मिलाकर कितना Total Amount हुआ। उसके बाद आप Checkout Now पर Click करके आगे की Process को Continue कर सकते हो।
  • Check Out Now पर Click करने के बाद आपके सामने एक Page Open होगा जहाँ आपको Account Create करना होगा।
  • यहाँ आपसे कुछ Details पूछी जाएँगी जिन्हें आप Submit करके Payment कर सकते हो।

इस प्रकार आप Hosting और Domain को आसानी से Purchase कर सकते हो। चलिए अब मैं आपको Next Step के बारे में बताता हूँ।

3. Blog Script तैयार करना

वर्डप्रेस में 1000 से ज्यादा पहले से डिजाईन थीम है, जिनका उपयोग कर आप अपने ब्लॉग को और आकर्षित और अलग बना सकते है. आपको किसी वेब डिज़ाइनर के पास जाकर अपने ब्लॉग को तैयार करवाने की जरूरत नहीं है, ये डिज़ाइनर पैसा लेते है, लेकिन आप वर्डप्रेस में फ्री थीम में काम कर सकते है. वर्डप्रेस को अपनी वेबसाइट के लिए डाउनलोड करें और उसका उपयोग करें.

See also  Bloging के लिए सबसे बेस्ट होस्टिंग कौन सी है ?

अगर आपको शुरुवाती सेटअप करने में कोई परेशानी हो तो हमे contact us पेज के जरिए बताये और हम आपकी मदद करने की कोशिश करेंगे.

4. ब्लॉग ( Blog ) मैनेज करना

ब्लॉग को मैनेज करने के लिए आपको बेकएंड में जाकर लॉग इन (/login) करना होगा. इसमें आपको डोमेन नाम के आगे लॉग इन लिखना होगा. इससे डैशबोर्ड खुल जायेगा. डैशबोर्ड में सभी पेज, पोस्ट, टैग, कमेंट, कैटेगरी रहेगी, जिसे आप चेंज भी कर सकते है. जितना आप इस पर काम करेंगें, उतना आप इसे समझते जायेंगें.

पोस्ट ( Post ) –

पोस्ट बनाने के बाद वर्डप्रेस में पेज सेलेक्ट करे, जहाँ वो दिखाई देगी. यहाँ पब्लिश होने की तारीख, लिखने वाले का नाम, कमेंट बॉक्स होगा, जिस पर विजिटर जाकर अपने कमेंट कर सकते है.

मीडिया ( Media ) –

मीडिया मेनू में आपके फोटो और विडियो रहेंगें, जो आप ब्लॉग में शेयर करते है.

लिंक ( Link ) –

लिंक सेक्शन में आप अलग अलग लिंक बना सकते है.

पेज ( Page ) –

आप इसका प्रयोग कर अपने ब्लॉग में नए पेज जोड़ सकते है. यहाँ पेज की सेटिंग के लिए बहुत से विकल्प मौजूद रहते है.

दिखावट ( Design ) –

इसमें आप अपने ब्लॉग को कस्टमाइज कर सकते है, वो कैसा दिखेगा, उसकी थीम, मेनू, साइडबार सब आप चुन सकते है. यहाँ पेज को अच्छा बनाने के बहुत से तरीके है, जिसे आप अपनी मर्जी अनुसार चुन सकते है.

प्लगइन ( Plugins ) –

प्लगिन अच्छा टूल है, अगर सही ढंग से उपयोग किया जाये. इससे ब्लॉग की परफॉरमेंस अच्छी होगी, सर्च इंजन में वेबसाइट उपर आएगी, विसुअल स्टाइल और लुक अच्छा होगा.

सेटिंग ( Setting ) –

सेटिंग मेनू में जाकर आप ब्लॉग नाम, मीडिया सेटिंग, तारीख, फ्रंट पेज का डिस्प्ले और विवरण मैनेज कर सकते है.

फ्री ब्लॉगर ( Free Blogger ) को होने वाली परेशानी –

ब्लॉगर बनने के लिए आपने फ्री डोमेन तो चुना है, लेकिन आगे चलकर आपको कुछ परेशानियों का भी सामना करना पड़ सकता है जैसे –

  1. फ्रीफ्री नहीं है  फ्री ब्लॉग साईट, आपको फ्री स्पेस तो देती है, लेकिन वे इससे अच्छी कमाई भी करती है. वे आपको इसलिए स्पेस नहीं देती कि वो आपको पसंद करती है. वे आपकी मेहनत से लिखे गए ब्लॉग से अच्छी कमाई करते है. ये इन तरीकों से होता है –
  • वे एड स्पेस बेचते है  फ्री ब्लॉग साईट आपके ब्लॉग में विज्ञापन डालते है. आपके ब्लॉग में कौन विज्ञापन डाला गया, आप इसके बारे में कुछ भी नहीं कह सकते है. इसके साथ ही इन एड से मिलने वाले पैसे के लिए आप क्लेम नहीं कर सकते है, आप इस पर अपना हक नहीं बोल सकते है.
  • अपग्रेड में पैसा लगेगा – ब्लॉग लिखने के बाद आप साइन इन करके फ्री में उसे डाल देते है लेकिन अगर आप बाद में इसमें कोई बदलाव करते है तो आपको इसके लिए पैसा देना होगा.
  1. कोई प्रॉफिट नहीं  फ्री ब्लॉग साईट का उद्देश्य ये होता है कि वे अपनी कंपनी के लिए पैसा कमायें, न कि आपके लिए. इसका मतलब ये है कि आप अपने ब्लॉग के द्वारा किसी भी प्रोडक्ट या सर्विस को बेच नहीं सकते है. आगे आपको कंपनी ये एड स्पेस से आने वाले पैसे ऑफर कर सकती है, लेकिन ये बहुत बाद का स्टेप है.
  2. वेब एड्रेस बहुत लम्बा होता है, जिसे याद रखना मुश्किल है.
  3. कोई कण्ट्रोल नहीं – आप जब किसी फ्री वेबसाइट में अपना ब्लॉग शुरू करते है, तब शुरुवात में आप ब्लॉग स्पेस रेंट लेते है. इसका मतलब है कि साईट के मालिक के पास आपके ब्लॉग का पूरा अधिकार होता है. वे चाहें तो आपको ब्लॉग डालने से मना कर दें, आप इस विषय में उनसे कुछ भी नहीं बोल सकते है, न कुछ कर सकते है. फ्री ब्लॉग साईट आपको सारे फीचर भी नहीं दिखाएगी, जिसे जानकर आप अच्छे ब्लॉगर बन सकते है.
  4. सुरक्षा नहीं है  इन्टरनेट में कई बार साईट हैक्ड हो जाती है. ये नए, छोटे ब्लॉग के साथ भी होता है. इसमें हैकर आपके डोमेन नाम को चुरा लेगा, जिससे आपके सारे ब्लॉग भी चले जायेंगें और ये डोमेन आपको कभी वापस भी नहीं मिल सकता.
See also  Best Hosting Hostinger Review 2023: Our Full Test of The #1 Hosting Service

इन सब झंझटों से बचने के लिए, अच्छा है कि आप अपने ब्लॉग के लिए खुद खर्च कर लें. ये फ्री ब्लॉग से सस्ते है क्यूंकि इसमें बाद में कोई रकम नहीं देनी पड़ती है.

  1. ब्लॉग की शुरुवात ध्यान से करें – आप अगर वर्डप्रेस को चुनते है तो, ये किसी भी लैपटॉप, कंप्यूटर, टेबलेट, स्मार्टफोन में चल सकता है.
  2. ब्लॉग के बारे में अच्छे से जानकारी – ब्लॉग क्या है? ब्लॉग मतलब अपने ज्ञान को शब्दों में बयां करना. शुरुवात में उन्हीं टॉपिक को चुने, जिनके बारे में आपको अच्छे से जानकारी है. इससे लिखना आसान होगा, साथ ही आपके मन की बात दूसरों तक पहुँच सकेगी.
  3. दूसरों से सीखें  शुरुवात में ब्लॉग लिखते समय, उसे पोस्ट करते समय आपको बहुत सी परेशानियाँ का सामना करना पड़ सकता है. बहुत सी गलतियाँ भी होती है, इस सब से बचने के लिए आप इस तरह के आर्टिकल अच्छे से पढ़ें. सीखने में कोई बुराई नहीं है.

ब्लॉग शुरू करने से आपको ये फायदे होंगें | Blogging benefits –

  • पैसा – ब्लोगिंग ( Blogging ) अच्छे से की जाये तो आपको अच्छी आय दे सकती है. दुनिया के टॉप ब्लॉगर आज के समय में अच्छा कमा रहे है. ब्लोगिंग एक पार्ट टाइम काम भी है, जिसे करके लोग अच्छी खासी आय जोड़ रहे है.
  • नाम बढ़ेगा – ब्लोगिंग ( Blogging ) में नाम तो फेमस होता है, लेकिन ऐसा पहले ही ब्लॉग से नहीं होता है. लगातार ब्लोगिंग करने और उसमें अपना समय देने के बाद आप इन्टरनेट की दुनिया में फेमस हो सकते है. बहुत से ब्लॉगर, अपनी इस फील्ड में एक्सपर्ट हो चुके है, और उनका नाम भी काफी फेमस हो गया है.
  • मनोरंजक होता है – पैसा, नाम के अलावा ये आपको मजा भी देगा. इसके द्वारा आप अपने मन के अंदर की कोई भी बात शब्दों के द्वारा दूसरों तक पहुंचा सकते है. कहते है शब्दों में बहुत ताकत होती है, आज की दुनिया में कई ऐसे मुद्दे है जिन पर आवाज उठाने की जरूरत है. ब्लोगिंग के द्वारा आप उन मुद्दों पर अपने विचार व्यक्त कर सकते है, फिर आपके विचार को पसंद करने वाले आपसे जुड़ेंगे, इस तरह आपके पास ब्लोगिंग का बड़ा समूह बनते चला जायेगा.

Leave a Comment